दुनिया की सबसे बड़ी वैज्ञानिक दस्तावेज स्वास्थ्य साइट अपने परिवार की खुशी और स्वास्थ्य के लिए, विज्ञान और विश्वास के साथ हम संतुलन करते हैं

86026563

अदरक बनाने की सबसे अच्छी विधि जानिये

अदरक बनाने की सबसे अच्छी विधि जानिये



अदरक बनाने की सबसे अच्छी विधि जानिये  

मैं व्यक्तिगत रूप से कुरानिक पोषण विज्ञान के मूल सिद्धांतों के अपने लंबे अध्ययन के बाद मानता हूँ कि अदरक तैयार करने की आदर्श विधि का उल्लेख पवित्र कुरान में किया गया है और इसे अल्लाह सबसे अच्छी तरह जानता है

जिन्होंने उन आयतों को पढ़ा है जिनमें अदरक का उल्लेख किया गया है उन्होंने यह देखा होगा कि इसका उल्लेख एक पेय के रूप में और झरने के पानी के बाद किया गया है।

"और वहाँ उन्हें ऐसी शराब पिलाई जाएगी जिसमें जनजबील (के पानी) की तासीर होगी (17) जो एक झरना है जिसका नाम सलसबील है (18) सूरा अल-इंसान (Quran) 

पवित्र कुरान की व्याख्या करने वाले वैज्ञानिकों ने कहा कि इस आयत के स्पष्टीकरण के कई अर्थ हैं

उनके अनुसार, आयत में बताया गया कप शराब का कप है, और पुनर्जन्म के दिन की शराब नशीली नहीं होती है, और इसे अदरक के साथ मिलाया गया है

स्पष्टीकरण से यह समझा जा सकता है कि स्वयं झरने को पानी मिला हुआ अदरक का झरना कहा जाता है और यह अल्कोर्तोबी ने यही बताया है (Quran) 

इन दोनों आयतों को समझाने का मतलब है की झरने के पानी में अदरक मिला होता है जो सलसबील के रूप में जन्नत के लोगों तक जाता है

और वास्तव में यदि हम इस उदाहरण के अंतिम अर्थ को देखते हैं जैसे कि झरने के पानी में अदरक मिला होता है

वास्तव में यह हमें जलीय सत्त से औषधियों को तैयार करने से संबंधित चिकित्सीय पक्ष पर ले जाता है

जैसा कि हम जानते हैं कि महान अल्लाह द्वारा पृथ्वी पर बनाये गए पानी के झरने ठंडे या गर्म हो सकते हैं 

उदाहरण के लिए बराडा झरने के पास स्थित फिजे झरना गर्मियों में भी बर्फ की तरह ठंडा रहता है, और जॉर्डन में सोखनी झरना गर्म पानी का झरना है

लेकिन हम झरने के बारे में हम यह जानते हैं कि गर्म होने के बावजूद इसका पानी कभी भी उबलता नहीं है 

और वास्तव में अगर हम अदरक को ठंडे या गर्म पानी में मिलाने के बारे में सोचते हैं जिसे उबाला नहीं गया है तो 

यह हमें औषधि बनाने की आदर्श वैज्ञानिक विधि की याद दिलाता है जो उन्हें उबालने के लिए मना करता है जिससे की पानी का तापमान बहुत अधिक नहीं हो पाए

क्योंकि अध्ययन दर्शाते हैं कि औषधियों में पाए जाने वाले पानी में घुलनशील सक्रिय यौगिकों पर गर्मी का नकारात्मक प्रभाव पड़ता है और वे अत्यधिक गर्मी सहन नहीं कर सकते हैं। (Gladstar, 2012) 

इसलिए औषधि जैसे अदरक में मौजूद प्रभावी सामग्रियों को निकालने के लिए झरने के समान ठंडे या गर्म पानी को आदर्श माना जाता है जिससे इसकी संरचना खराब, या बर्बाद नहीं होती या परिवर्तित नहीं होती है 

इसलिए हम देखते हैं कि सबसे अच्छी वैज्ञानिक पद्धति वह है जो इन दोनों आयतों की हमारी कुरान की समझ के निकट है और जिसे अल्लाह सबसे अच्छी तरह जानता है

और इसलिए हम उपयोग के लिए अदरक के बारे में सलाह देते हैं कि एक बड़ा चम्मच बारीक कटा या कसा हुआ कच्चा अदरक लेकर उसे थर्मस में रखा जाना चाहिए जो तापमान को सुरक्षित रखता है और इसके बाद उसमें एक लीटर पानी ठंडा पानी मिलाएं

इसे तुरंत ढंक दें और इस मिश्रण को 12 से 24 घंटे तक भिगोकर रखा जाना चाहिए, इसके बाद इसे ठंडा करके या कमरे के तापमान पर पीया जाता है।

जल्दी अदरक के सेवन की जरुरत होने पर, एक बड़ा चम्मच बारीक कटे या कसे हुए अदरक को थर्मस में रखें, इसमें एक लीटर गर्म पानी मिलायें, और हम 50 डिग्री सेंटीग्रेड से ज्यादा गर्म पानी की सलाह नहीं देते हैं

और तापमान को बनाये रखने वाले थर्मस को तुरंत ढंक दें और आधे घंटे के बाद आप इसे से पी सकते हैं।

हम आपको दिन में एक बार दोपहर के भोजन के बाद और दोपहर की प्रार्थना के बाद अदरक पीने की सलाह भी देते हैं(Watson et.al., 2012) 

इसीलिए परिवार के सभी सदस्यों के लिए एक लीटर काफी होता है लेकिन ऊपरी श्वास मार्गों में सूजन होने पर या यदि व्यक्ति इलाज के तौर पर अदरक इस्तेमाल करना चाहता था और (Brandon, 2015)  

ना केवल संरक्षण के लिए तो वह प्रत्येक 4 घंटे में एक बार 100 मिलीलीटर अदरक का मिश्रण या इसकी एक कप चाय जितनी मात्रा ले सकता है।

और इतनी मात्रा को केवल एक दिन ही लेना चाहिए और अगले दिन उसे इसकी दूसरी मात्रा तैयार करनी चाहिए।

अगर हरा अदरक नहीं है तो इसे बनाने के लिए सूखे अदरक या सोंठ का इस्तेमाल किया जा सकता है। लेकिन इसका एक छोटा चम्मच लेना चाहिए ना कि बड़ा चम्मच और इसे उसी विधि से बनाया जा सकता है जैसे कि पहले बताया गया है।

यहाँ आपको सूखे अदरक को पानी में भिगोने से पहले पीसने की सलाह दी जाती है ताकि इसकी घुलनशीलता बढ़ सके

हम आपको अदरक को पानी में भिगोने के तुरंत पहले इसे पीसने की सलाह देते हैं ताकि हम इसकी महत्वपूर्ण सामग्रियों को ना खोएं जो भिगोने से काफी पहले पीसे जाने के कारण समाप्त हो जाते हैं। 

निश्चित रूप से मैं मानता हूँ कि इसे पानी में तैयार करने से अदरक में उपलब्ध प्रभावी सामग्रियां आसानी से इसमें घुल जाती हैं

और जैसा कि अध्ययनों से पता चलता है कि अदरक के फायदे उन पदार्थों में हैं जो इसके अंदर के वसा में घुलनशील हैं और ना कि पानी में घुलनशील हैं

इसलिए संतुलित पोषण प्रणाली में हम अदरक के सभी तत्वों के साथ इसका संतुलित सत्त निकालने के लिए सतर्क थे; इसके सभी तत्व जो पानी में घुलास्न्हिल हैं और वसा में घुलनशील हैं 

इसके जलीय सत्त को हम सर्वश्रेष्ठ प्राकृतिक सेब के सिरके में डालकर रखते हैं और इस प्रकार हमें अदरक का सिरका मिलता है 

जबकि इसके तैलीय सत्त को हम सर्वश्रेष्ठ प्राकृतिक जैतून के तेल में रखते हैं और इस प्रकार हमें अदरक का तेल मिलता है

और इस तरीके से हम इसे पूरी तरह से संतुलित रूप से प्राप्त कर लेते हैं जो कि अपने सभी तत्वों के साथ संतुलन बनाए हुए है ताकि हम संतुलित पोषण प्रणाली का सिद्धांत अपना सकें जिसका वर्णन पवित्र कुरान में किया गया है। औषधि का अपने तत्वों के साथ पूरा संतुलन बनाए रखना संतुलित पोषण प्रणाली है। 

"और जिस धरती को हमने फैलाया है और उसपर अटल पहाड़ों को रखा और जिसमें हर संतुलित चीज का विकास हुआ" (19) सूरा अल हिज्र(Quran) 


ध्यान दें: ज्यादा अदरक लेना उचित नहीं होता है क्योंकि दिन में इसकी एक या दो कप मात्रा ही पर्याप्त होती है और इसे दोपहर या शाम को लेना बेहतर होता है

और जो लोग द्रावित्र लेते हैं, विशेष रूप से वे जो रक्त के प्लेटलेट्स पर काम करते हैं, उन्हें अदरक के सेवन से पहले अपने चिकित्सक से परामर्श लेना चाहिए, क्योंकि अदरक के तरलीकरण प्रभाव के कारण यह प्लेटलेट्स के आसंजन को रोकता है।

प्रसिद्ध इस्लामी नियम को लागू करते हुए हम उन लोगों को भी इसकी सलाह नहीं देते हैं जिन्हें अदरक से एलर्जी है "बुराई को दूर करना लाभ पाने से ज्यादा महत्वपूर्ण है"।(Bone, 2003) 


जमिल अल क़ुद्सी

एमडी-एमएससी सीएएम-डुप एफएम 



Bone, K. 2003. A clinical guide to blending liquid herbs: Herbal formulations for the individual patient, Elsevier Health Sciences.

Brandon, B. 2015. Ginger for health: 100 amazing and unexpected uses for ginger, F+W Media.


Gladstar, R. 2012. Rosemary gladstar's medicinal herbs: A beginner's guide: 33 healing herbs to know, grow, and use, Storey Publishing, LLC.


Quran. Al-hijr (the rocky tract) - سورة الحجر [Online]. Available: https://quran.com/15 



Quran. Al-insan (the man) - سورة الانسان [Online]. Available: https://quran.com/76 



Quran. التفسير tafsir (explication) القرطبي - al-qortoby [Online]. Available: https://quran.ksu.edu.sa/tafseer/qortobi/sura76-aya17.hyml# 


Watson, R. R. & Preedy, V. R. 2012. Bioactive food as dietary interventions for liver and gastrointestinal disease: Bioactive foods in chronic disease states, Elsevier Science.




videos balancecure

Share it



Subscribe with our newsletter


Comments

No Comments

Add comment

Made with by Tashfier

loading gif
feedback